आदर्श बारीपाडा मे अब सोलर मिशन। Solar Mission in Baripada

बीजली, बीजली की कटौती और बीजली के बढ़ते दामों का सवाल वैसे ही खेती को पानी देने के लिए रातभर जगना आज के जमाने में कईयों के लिए दिक्कत की बात  है। इस स्थिती को सुधारने के लिए, बदलाव लाने के लिए सोलर पंप का स्विकार करने की मानसिकता तयार की गयी है। काफी गावों ने सकारात्मक प्रतिसाद भी दिया है। बारीपाडा एवम् अन्य गावों ने समय समय पर कार्यान्वित प्रयोग, योजना के माध्यम तथा जनसहभाग से परिवर्तन संभव है इसकी मिसाल रखी है। इसी मिसाल के साथ सोलर पंप का प्रयोग भी यशस्वी होगा, ऐसा विश्वास है।

जनसहभाग से विकास का आदर्श प्राप्त
बारीपाडा (ता.साक्री) में और परिसर के पॉंच गावों में खेती के लिए २२ और इन्ही गावों को जलपूर्ती करनेवाले कुओं पे सोलरपंप बिठाये जानेवाले है। वर्ष प्रतिपदा के मुर्हत पर भूतपूर्व सरपंच सिंधूताई पवार के शुभहाथों इस काम का आरंभ हुवा। ग्रामीण और वह भी जनजाती क्षेत्र के गाँव से अनुकरणीय पहल है। इस अवसर पर
मापलगाव के भूतपूर्व सरपंच रावजी चौरे, मांजरी के भूतपूर्व मुखिंया अनिल पवार, मोहगाव के भूतपूर्व मुखिंया लक्ष्मण महाले, साहेबराव पवार, चंदू चौधरी, बंडू बागूल, मोतीराम पवार, नंदाबाई पवार इनके साथ आदर्श बारीपाडा के कर्मयोगी चैत्राम पवार उपस्थित थे।

दानशूरों के नेतृत्व से  बदलाव
वनवासी कल्याण आश्रम के प्रयास और मुंबई स्थित मीनाक्षी मेहता वेल्फेअर फाउंडेशन के ‘सीएसआर’ में से सोलर खेती के पंप इस परिसर के मांजरी, मापल गाव, मोहगाव चावडीपाडा कालदर में बिठाये है। इस पंप के लिए मांजरी के पूर्व सरपंच अनिल पवार, कालदर के विजय पवार, मोहगाव के लक्ष्मण महाले, मापलगाव के रावजी चौरे, चावडीपाडा के रमण बहिरम इन्होंने लगातार जॉंच की।
इन्हींकी प्रयासों से गावों को पंप आबंटित हुए।
वर्तमान और पूर्व मुखियों की उपस्थिथि में ग्रामस्थ, महिला इस कार्य के प्रयास को कार्यान्वित कर रही है।

पानी की समस्या कम होने के लिए मददगार
बारीपाडा के यहॉं खेती के लिए ११ और गाव के जलपूर्ती के लिए २, मापलगाव के खेती के लिए २, जलपूर्ती के लिए २, मोहगाव  खेती के लिए ३, जलपूर्ती के लिए २, चावडीपाडा खेती के लिए ४ और जलपूर्ती के लिए २, कालदर खेती के लिए २, जलपूर्ती २ ऐसी कूल ३२ सोलर पंप के काम का शुभारंभ हुआ। इससे गाव की पानी की समस्या कम होने के लिए मदत होगी
इस दुर्गम गाव मे बीजली की गंभीर समस्या होने के कारण उसके उपर कार्यान्वय संबधित संस्था ने यह मदतकार्य किया है । इसलिए संबंधित किसानों के गाववालों को राहत मिलेगी। इस पंप की वजह से पानी के लिए रातभर जगने की दिक्कत नही रही। यह सोलर पंप का काम अहमदाबाद की एक कंपनी ने किया है।

“Newletter”

We Are Social