गोदान सर्वश्रेष्ठ दान

पुरुषोत्तम मास निमित्त सरिगाम के प्रकाश खडपेकर ने गोदान का संकल्प लिया।वे वनवासी कल्याण आश्रम के गो-संवर्धन केंद्र पर पधारे और 21 हजार का दान कर गो पूजा की

अपनी संस्कृति में पुरुषोत्तम मास (अधिक मास) में दान करने की परम्परा बहुत पुरानी है दान करने से न केवल पून्य प्राप्त होता है अपितु आत्मसंतोष भी मिलता है वनवासी कल्याण आश्रम दादरा नगर हवेली की ओर से रांधा में पिछले कई वर्षों से गो-संवर्धन केंद्र का संचालन होता है केंद्र में 12 गीर गाय है ग्रामीण परिवारों को आर्थिक लाभ हो और उन्नत कृषि हेतु खाद मिले इस लिए केंद्र की ओर से समय समय पर प्रयास होते है वर्ष में कई बार गो-वंश दान होता है अभी तक 15 परिवारों को गाय अथवा गो-वंश का दान दिया है

इस वर्ष पुरुषोत्तम मास निमित्त सरिगाम के प्रकाश खडपेकर ने गोदान का संकल्प लिया वे वनवासी कल्याण आश्रम के गो-संवर्धन केंद्र पर पधारे और 21 हजार का  दान कर गो पूजा की उन्होंने वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा संचालित गो-संवर्धन केंद्र को देख प्रसन्नता व्यक्त की   

“Newletter”

We Are Social