दूर दूर गांवो में जाए… वन बंधु को मिलने….

महाराष्ट्र में वनयात्रा का आयोजन
चाणक्य मंडल परिवार यह अत्यंत प्रतिष्ठित अकादमी के लगभग 200 से अधिक छात्रों ने 13 से 15 मई 2018 को वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा महाराष्ट्र के विभिन्न जिलों में जनजाती समाज का दर्शन किया। गडचिरोली जिले में स्थित भामरागड जैसे अत्यंत सुदूर और संवेदनशील क्षेत्रा से लेकर नंदुरबार, धुले, नाशिक, पालघर, रायगड और पुणें के जनजाती क्षेत्रा मे विभिन्न 13 जगहों पर यह छात्रा-छात्राऐ तीन दिन वन बंधुओ के बीच रहे, उनके साथ उनके घर में भोजन किया, अपनी संस्कृती, परंपरा की जानकारी प्राप्त की, जनजाती बंधूओं की विभिन्न समस्याओं का अध्ययन किया, उनके बीच नृत्य के साथ साथ थोडा श्रमानुभव का आनंद भी उठाया।
नासिक जिले के कनाशी और मनखेड गांवाॆ मॆ भी ये छात्रा तीन दिन रहे।


जनजाती समाज और हमारा रक्त का संबंध् है, क्यों की वे हमारे बंधू है, हमारी संस्कृती एक ही है इस अनुभूती का दर्शन इन छात्रों ने इन तीन दिन में किया। चाणक्य मंडल के प्रमुख अविनाश जी और पूर्णाताई धर्माधिकारी जी के प्रति हम वनवासी कल्याण आश्रम की ओर से आभार प्रगट करते है।

“Newletter”

We Are Social