विदर्भ वनवासी कल्याण आश्रम-नागपुर की समिति ने जनजाति छात्रों को सम्मानित किया

विदर्भ वनवासी कल्याण आश्रम – नागपुर महानगर द्वारा प्रदेश कार्यालय के सभागार में 15 जुलाई 2018 को मेधावी छात्रों का सम्मान किया गया। इस कार्यक्रम में निरामय बहूदेशीय सेवा संस्था की संचालिका डॉ. उर्मिलातई क्षीरसागर अध्यक्षा थी और संस्कृत विद्यालय की अभ्यासक डॉ. वीणा गानु प्रमुख अतिथि के रूप में उपस्थित रही। इस कार्यक्रम में नागपुर के 25 विद्यालयों के 40 जनजाति छात्रों को सम्मान करने हेतु निमंत्रित किया गया।

 

डॉ. उर्मिलातई ने अपने संबोधन में कहा की विद्यालय में प्राप्त संस्कोरों के आधार पर नवीन जग में प्रवेश करने पर अच्छा क्या और बुरा क्या को जानते हुए अपने व्यक्तित्व को घड़ना है। सतविवेक का आत्मभान इसी आयु में रखना होगा।  डॉ. वीणा गानु ने संस्कृत सुभाषित को अत्यंत सरल शब्दों में समझाते हुए अपनी बात रखी। मंचासीन माननीय व्यक्तियों के हाथों स्मृतिचिन्ह देकर छात्रों को सम्मानित किया गया।

 

We Are Social