संकुल ग्रामोदय योजना के बढ़ते चरण

अखिल भारतीय वनवासी कल्याण आश्रम के द्वारा संकुल ग्रामोदय योजना का कार्य किया जा रहा है, इसी तहत संकुल योजना बैठक जबलपुर में दिनांक 12,13 जून को रखी गई जिसमे 40 कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
संकुल ग्रामोदय योजना के तहत पिछले दो साल से तीस गाँवों का अध्ययन किया गया, पिफर दस गाँव का अध्ययन किया गया, फिर उन दस गाँवों में से तीन गाँवों का चयन किया गया अध्ययन के अनुसार अब उन तीन में से एक गाँव का सम्पूर्ण ग्राम विकास कैसे होगा एवं उस गाँव में क्या क्या संसाधन हैं और क्या संसाधन होने से विकास होगा इस सारी बातों पर विशेष चर्चा हुई और इस बैठक में प्लान बनाने के लिए दो विशेषज्ञों का मार्गदर्शन मिल रहा है।
बैठक में प्रमुख रूप से उपस्थिति विन्देश्वर (अ भा ग्राम विकास प्रमुख), प्रवीण जी ढोलके (क्षेत्र संगठन मंत्री मध्य क्षेत्र) योजक (पूना) के डायरेक्टर डा. गजानन डांगे (कृषि वैज्ञानिक) कपिल सहस्त्राबुद्धे (योजक-पूना) किशोरी लाल यादव (प्रांत संगठन मंत्री), लक्ष्मी नारायण वामने (प्रांत सहसंगठन मंत्री) आदि अधिकारियों की उपस्थिति उत्साहवर्धक रही।
कृषि वैज्ञानिक डा. गजानन डांगे ने दिल्ली में भी 6 जून 2018 को प्रबुद्धजनों के सन्मुख संकुल ग्रामोदय योजना की अवधरणा एवं परिणाम विषय पर अपने विचार व्यक्त किये। वनवासी कल्याण आश्रम देवगिरी प्रांत के अध्यक्ष चैतराम पवार जी के विचारों ने सम्पूर्ण कार्यक्रम में उत्साह भर दिया। इस कार्यक्रम में राजस्थान एवं पूना (महाराष्ट्र) से भी कार्यकर्ता पधारे थे जिन्होंने संकुल ग्रामोदय के बारे में चल रहे काम की जानकारी दी। दिल्ली के उपस्थित नगरजनों ने भी अपने सहयोग का विश्वास दिलाया।


We Are Social