Sports खेलकूद

अपने वनवासी बन्धुओं में शारीरिक क्षमता एवं कौशल विपूल मात्रा में है। सुदूर गाँवों में जाना खेल प्रतिभाओं की शोध कर उन्हें प्रशिक्षण देकर अवसर प्रदान करना यह खेलकूद आयाम का महत्वपूर्ण कार्य है। आज कई वर्षों से इस खेलकूद के क्षेत्र में कार्यरत वनवासी कल्याण आश्रम ने अनेक उपलब्धियाँ पाई। खेल जगत को कई युवा खिलाड़ी मिले है।

प्रति चार वर्षां में एक बार राष्ट्रीय स्तर पर एक खेल प्रतियोगिता का आयोजन होता है। इसके पूर्व तहसील (ब्लाक) स्तर से लेकर जिला एवं प्रान्त स्तर पर भी प्रतियागिताओं का आयोजन होता है। सारे देश में हज़ारों, लाखों वनवासी युवा इसमें सहभागी होते है। प्रशिक्षण और खेलने का अवसर, दोनों प्राप्त हेाने के कारण प्रतिभा निखरती है। परिणामस्वरूप सुदूर छोटे छोटे गाँवे के खिलाड़ियों को आगे आने का अवसर मिलता है। प्रतिवर्ष वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा तीरंदाजी और किसी एक खेल की प्रतियोगिता भी राष्ट्रीय स्तर पर होती है।

खेलकूद आयाम के माध्यम से दैनिक अथवा साप्ताहिक खेलकेन्द्र चलते है जिसके कारण ग्रामीण युवा संगठित होते है। वनवासी कल्याण आश्रम को जैसे किसी छात्रावास से कार्यकर्ता प्राप्त होते है वैसे खेलकेंद्र के माध्यम से भी इस कार्य के लिये युवा कार्यकर्ता मिलते है। कई स्थानों पर युवकों के साथ युवतियाँ भी खेल के क्षेत्र में अपना कौशल प्रगट करती है।

खेलकूद केन्द्र: दैनिक: 400

साप्ताहिक: 2045

खेल महोत्सव:

क्रम वर्ष स्थान प्रतिभागी प्रांत प्रतिभागी खिलाड़ी
1 1988 मुम्बई 15 392
2 1991 इंदौर 22 750
3 1995 उदयपुर 28 991
4 2000 राँची 31 1317
5 2005 अमरावती  29 1528
6 2011 पूना 32 2232
7 2015 राँची 35

 

दिसम्बर 2018 के अंत में गुवाहाटी (असम) में अखिल भारतीय वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा राष्ट्रीय खेल महोत्सव का भव्य आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में देश भर के जनजाति युवक-युवतियों ने उत्साह से भाग लिया। वहां पर एक स्मारिका का प्रकाशन भी हुआ।

राष्ट्रीय खेल महोत्सव गुवाहाटी दिसम्बर 2018 Document

 

 वार्ता

सालबाड़ी में खेल प्रमुखों का अभ्यास वर्ग

सालबाड़ी में खेल प्रमुखों का अभ्यास वर्ग जून-19 वनवासी कल्याण आश्रम, सालबाड़ी (जि. दार्जिलिंग), स्थित भगवान बिरसा शिशु शिक्षा केंद्र में प्रान्त खेल प्रमुखों का अभ्यास वर्ग संपन्न हुआ। इस...
Read More

खेल प्रतिभाओं को प्रशिक्षण और  अवसर देना चाहिए

खेल प्रतिभाओं को प्रशिक्षण और  अवसर देना चाहिए  लक्ष्मी नारायण बामने ग्रामीण क्षेत्रों में खेल प्रतिभाओं की कमी नहीं है, आवश्यकता है उन्हें अवसर देने की। यदि जनजाति बच्चों को उचित...
Read More

राजस्थान में फुटबाल प्रतियोगिता

राजस्थान में फुटबाल प्रतियोगिता राजस्थान के कोटडा में वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा बालासाहब देशपाण्डे जनजाति फुटबाॅल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। अखिल भारतीय खेलकूद सह-प्रमुख हिम्मत सिंह सारंगदेवोत, नगरीय कार्य...
Read More

खेल विश्व और अपना भारत

खेल विश्व और अपना भारत दिसम्बर 2018 के अंत में गुवाहाटी (असम) में अखिल भारतीय वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा राष्ट्रीय खेल महोत्सव का भव्य आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में...
Read More

‘खेलो इण्डिया’ में देश का भविष्य है – किरण रिजीजू

‘खेलो इण्डिया’ में देश का भविष्य है - किरण रिजीजू गुवाहाटी में वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा आयोजित राष्ट्रीय जनजाति खेल महोत्सव का रंगारंग समापन 21वे राष्ट्रीय खेल महोत्सव का सोनापुर,...
Read More
1 2 3

 

We Are Social