Health Care स्वास्थ्य 

आरोग्य :
० किसी भी संवेदनशील व्यक्ति को अत्यंतीक पीड़ा देनेवाली बात यह है की वन पर्वतों में बसे गाँवों में यदि किसी बिमार व्यक्ति को दवाई अथवा उपचार की आवश्यकता है और वह उसके गाँव में यदि उपलब्ध नहीं है तो उसकी क्या स्थिति होगी ? तब उसे कई किलो मीटर दूर जाना अनिवार्य है।

० आरेाग्य सेवा सभी को उपलब्ध हो इस हेतु वनवासी कल्याण आश्रम जनजाति क्षेत्र में कार्यरत है। कहीं चिकित्सा केन्द्र तो कहीं छोटासा अस्पताल, कहीं चल चिकित्सालय (मोबाईल मेडिकल युनिट) तो कहीं आरोग्य रक्षक योजना जैसे विविध प्रयास चल रहे है। लाखों रोगियों को वर्ष भर में दवाईयाँ अथवा उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। इस हेतु नगरों से कई सेवाभावी चिकित्सक अपना मूल्यवान समय देकर सेवारत है। देश के कुछ राज्यों में पशुओं की चिकित्सा हेतु भी कम चल रहा है।

० वर्षाकाल जैसे समय आवागमन की प्रतिकूलता का विचार किये बीना छोटे-छोटे गाँवों में चिकित्सा शिविरों का आयोजन होता है। ऐसे वर्षभर में हज़ारों चिकित्सा शिविरों में लाखों वनवासी बन्धु लाभान्वित होते है।

० नगरवासियों को अपने घर अथवा कार्यालयों में बैठे बैठे इस बात का अंदाज नहीं होगा की केवल एक छोटीसी दवा की गोली वनवासी व्यक्ति को अपनी परम्परा से दूर ले जाने का कारण कैसे बनती है ? सुदूर जंगल के छोटे से गाँव में रहनेवाला एक युवक कहता है की वर्षों पूर्व मेरे परिवार के किसी व्यक्ति को बिमारी के समय उपचार उपलब्ध हुआ, जो अपनी पवित्र संस्कृति से दूर होने का कारण सिद्ध हुआ।

० आरोग्य क्षेत्र में हमारी सेवा यदि किसी को अपनी परम्परा, आस्था, संस्कृति के साथ जोडे़ रखती है तो हमारे प्रयास सार्थक है, इसमें कोई दो राय नहीं।

आरोग्य केन्द्र: 195 अस्पताल: 11 आरोग्य रक्षक: 3954

चिकित्सा शिवीर: 579 लाभान्वित व्यक्ति: 600515

 

Health Care News

नेत्र चिकित्सा शिविर लोहरदगा

नेत्र चिकित्सा शिविर लोहरदगा वनवासी कल्याण केन्द्र तथा जिला अंधपन नियंत्रण संघ के तत्वावधान में 12 अगस्त को बिरसा नेत्रालय में शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में आंखो कि...
Read More

ग्राम टांकीया में चिकित्सा शिविर

ग्राम टांकीया में चिकित्सा शिविर राजस्थान वनवासी कल्याण परिषद द्वारा सुदूर वनवासी गांव टांकीया (तहसील आबूरोड-सिरोहीद्) में चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें 186 रोगियों का इलाज किया गया।...
Read More

भेट में मिले वजन कांटे

भेट में मिले वजन कांटे   अच्छे कार्य को सहयोग करने वाले समाज में बहुत लोग है, आवश्यकता है सम्पर्क करने की, अपने कार्य की जानकारी देने की तो समाज...
Read More

असम के होजाई जिले में नेत्र चिकित्सा शिविर

असम के होजाई जिले में नेत्र चिकित्सा शिविर गुवाहाटी के लायंस नेत्र अस्पताल के डा. वैश्य और कल्याण आश्रम-असम के संयुक्त प्रयासों से होजाई जिले के चांगमाझी गांव के गणेश...
Read More

दिल्ली के डाक्टरों द्वारा त्रिपुरा में चिकित्सा शिविर

दिल्ली के डाक्टरों द्वारा त्रिपुरा में चिकित्सा शिविर   दिल्ली के डाक्टरों द्वारा त्रिपुरा के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा शिविरों का आयोजन किया गया। दिनांक 24 से 28 तक...
Read More
We Are Social